यमुना की सफाई के लिए संगठित संकल्प और वास्तविक प्रयासों की जरूरत -डॉ विवेक दीक्षित

नई दिल्ली(न्यूज़ ग्राउंड)यमुना की स्वच्छता को लेकर चलाए गए जागरूकता अभियान का असर दिखाई देने लगा है। सामाजिक संस्थाएं व आरडब्ल्यूए से लेकर जनप्रतिनिधि तक अब इसके लिए आगे आ रहे हैं। इसी कड़ी में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली के वरिष्ठ वैज्ञानिक ऑर्थो, डॉक्टर विवेक दीक्षित के नेतृत्व में
आई टी ओ क्षेत्र में यमुना नदी के छठ घाट पर युमना की सफाई की ।इस मौके पर डॉ विवेेेक दीक्षित ने कहा कि प्राचीन काल से नदियां पूज्यनीय रही हैं। गंगा, यमुना जैसी नदियों को पवित्र माना जाता है, लेकिन हम अपने स्वार्थ व अज्ञानता के कारण नदियों को प्रदूषित कर रहे हैं। खासकर, दिल्ली में यमुना नदी में पूजन सामग्री व कूडे़ आदि प्रवाहित किए जा रहे हैं। इससे हमें ही नुकसान उठाना पड़ रहा है। ऐसे में यमुना नदी को बचाने के लिए यह जागरूकता अभियान शुरू किया गया है। उन्होंने यमुना की बदहाली को लेकर दिल्ली वासियों से अनुरोध किया कि यमुना हमारी धरोहर है इसको पुनर्जीवित करने हम सभी का कर्तव्य है सभी को यमुना को स्वच्छ बनाने का वादा करना होगा हम दिल्ली वासियों की उदासीनता के कारण अब तक कोई कार्य इस दिशा में कोई काम नहीं किया जा सका है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सबको मिलकर प्रयास करना होगा और सरकार को भी इस दिशा में गंभीरता से काम करना होगा।वास्तव में यमुना की सफाई के लिए संगठित संकल्प और वास्तविक प्रयासों की जरूरत है। कई हाथ मिलकर जीवनदायिनी यमुना की पीड़ा को दूर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जब तक जनता और सरकार की विभिन्न एजेंसियों के बीच बेहतर तालमेल नही होगा, यमुना सफाई की कल्पना बेईमानी होगी। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार द्वारा करोड़ों रुपये सफाई पर खर्च किये गए, लेकिन यमुना सफाई की मोहताज बनी रही। उन्होंने आगे भी ऐसे अभियान चलाने और संकल्प के साथ शिरकत करने के लिए क्षेत्र के लोगों का आहवान किया, इस अवसर पर उपस्थित डॉक्टरो की टीम ने होली मिलन समारोह का आयोजन भी किया ,हास परिहास के साथ साथ युमना की सफाई का संदेश दिया गया ,अनिल लखेरा द्वारा बाँसुरी वादन का भी सभी ने आनंद लिया, इस पुनीत कार्य मे सैकड़ो की संख्या में लोग उपस्थित थे

न्यूज़ ग्राउंड में खबर प्रकाशित करवाने हेतु संपर्क करें वी के शर्मा

मुख्य संपादक न्यूज़ ग्राउंड

9312223596