कलाभूमि द्वारा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला  में किया गया कला का संचार
(न्यूज़ ग्राउंड) राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने  नई दिल्‍ली में 37वें भारत अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार मेला-2017 (आईआईटीएफ) का उद्घाटन हंस ध्वनि थियेटर में किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि भारत अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यापार मेला-2017 का आयोजन ऐसे समय हो रहा है, जब भारत वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था में एक बेहतर स्‍थान के तौर अपनी पहचान बना रहा  इस अवसर पर कैबिनेट मिनिस्टर सत्येन्द्र कुमार जैन, वाणिज्य और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु एवम कला भूमि के संस्थापक श्री असगर अली जी को अतिथि के रूप मे आमंत्रित किया गया! कलाभूमि संस्था ने   चित्रकला प्रदर्शनी द्वारा भारत को प्रस्तुत किया जिसमे एक कला प्रदशन द्वारा “स्टार्ट अप इंडिया; स्टैंड अप इंडिया” (इस साल का विषय ) को प्रस्तुत किया. पत्रकारों से बातचीत करते हुए  कलाभूमि के संस्थापक  श्री असगर अली जी ने बताया कि कलाभूमि बीते 15 वर्षो से कला के क्षेत्र में कार्य कर रही है जिसमे उनका मुख्या उद्देश्य कला के जरिये विश्व में कलाकारों को एक नया मुकाम हासिल कराना है ! और साथ ही  बीते कई वर्षो से कला का प्रदर्शन विभिन देशो जैसे सिंगापुर, दुबई, अमेरिका इत्यादि में किया ! हाल ही वर्ष 2017 में 2 अक्टूबर गाँधी जयन्ती के अवसर पर  पोस्टर प्रतयोगिता का आयोजन किया जिसमे दिल्ली के विभिन 40 स्कूल से करीब 600 बच्चो ने भाग लिया. जिसको न्यूजीलैंड के मरवेलौस बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में शामिल किया गया!  कलाकार ब्रश और पेंसिल की सहायता से अपनी प्रकृति की सुन्दरता और एक नयी पहचान बनाते है जो कलाकार की कड़ी मेहनत  और लगन दर्शाती है! कैबिनेट मिनिस्टर सत्येन्द्र कुमार जैन द्वारा कलाभूमि द्वारा किये गये कार्य की सराहना की गई