न्यूज़ ग्राउंड एक्सक्लूसिव/गोरखपुर(अभिषेक श्रीवास्तवा)

 

गोरखनाथ थाना अंतर्गत नयागांव रामपुर इलाके में सुबह 11:30 बजे रोहिणी नदी में एक दर्दनाक घटना घट गई।

घटना कुछ इस प्रकार थी कि नाविक समेत 7 महिलाये एक डोंगी नाव पर सवार हो रोहिन नदी को इस पार से उस पार लकड़ी लेने जा रही थी।जिसमे नाविक मनु एवम अन्य महिलाये तारा पुत्री प्रकास निषाद उम्र लगभग 15 वर्ष,उषा उम्र लगभग 20 वर्ष,अबिता पुत्री स्व0 वीरेंद्र,रबीना पुत्री राजू निषाद उम्र लगभग 17 वर्ष,बेबी पुत्री रामदेव उम्र लगभग 16 वर्ष, प्रीति पोत्री झिंनु उम्र लगभग 6 वर्ष एवम निशा पत्नी मनोज उम्र लगभग 35 वर्ष सवार थी।जिसमे तीन महिलाये तो किसी प्रकार स्थानीय लोगो की मदद से बच कर किनारे आ गयी।जो कि तारा,उषा और अबिता है परंतु चार महिलाये जिसमे से एक बच्ची भी है रबीना,बेबी,प्रीति और निशा नाव पलटने से डूब गई।
बची हुई युवती तारा ने न्यूज़ ग्राउंड से बात करते हुवे बताया कि ये सभी नए गांव से बलुहवा गांव की ओर लकड़ी लेने गयी थी।हम सभी 6 से 7 लोग थे ।नाविक मनु से हमने बोला पहले 3लोगो को उस पार छोड़ आओ मगर मनु ने बोला कोई नही तुम सब बैठ जाओ कुछ नही होगा।तो हम सब नाव में बैठ गए।और वो नाव को पानी मे लेने लगा तो हम लोग उतरने लगे।मगर उसने धकेल के नाव को पानी मे उतार दिया।और जब नाव नदी के बीचों बीच पहुच गयी तो नाव अनियंत्रित होने लगी तो खुद मनु नाव से कूद कर भाग गया।जिससे नाव बहने लगी।और उसी वक्त नाव पलट गई ।हम सब चिल्लाने लगे मगर मनु भाग गया।हम 3 लोग तो किसी तरह बच गए मगर 4 लोग डूब गए।

 

 

खबर लिखे जाने तक अन्य 4 महिलाएं अभी भी नही मिल रही हैं। डीएम गोरखपुर के आग्रह पर एनडीआरएफ की 25 सदस्यीय टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है और मोटर बोट और डीप डाइवर्स की सहायता से शेष 4 महिलाओं को ढूंढा जा रहा है।

 

मौके पर सी ओ गोरखनाथ एसपी ट्रैफिक प्रभारी चिलुआताल एवं गोरखनाथ एनडीआरएफ की टीम के साथ अन्य प्रशासन मौजूद है