गुलरिहा से निकलने वाली नरसिंह भगवान की शोभायात्रा में सीएम योगी की दिखी कमी,व्यस्तता के कारण नही पहुच पाए सीएम योगी ….…………………

अठारह वर्षों से चल रहा नरसिंह भगवान की शोभायात्रा में  नही पहुंचे, सीएम योगी

नरसिंह भगवान शोभायात्रा में गुलरिहा बाजार में हर वर्ष शामिल होते रहें हैं सीएम योगी———————–

सीएम योगी के ना पहुंचने से क्षेत्रवासीयो के चेहरे पर दिखी मायूसी ******************************

 

 

मैनुद्दीन अली /भटहट से

जनपद गोरखपुर……………

भटहट गोरखपुर—————————-

आज गुलरिहा बाजार में नरसिंह भगवान की शोभा यात्रा प्रमपरागत ऋती रिवाज के साथ हनुमान मंदिर से निकाला गया। जो जय घोष के साथ गुलहरिया स्थित अम्बेडकर नहर पुल तक लेजाकर फिर कस्बे में पुनः वापस लाया गया । इस दौरान विष्णु अखाड़ा पिपराईच के खिलाड़ियों द्वारा एक से बढकर एक कर्तब और कला का प्रदर्शन भी करके सबको अचंभित कर दिया ।

गुलरिहा बाजार के लोगो मे उस वक़्त निराशा हो गये जब मंच से भाजपा जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी मंच से ये सूचना दिया कि मुख्यमंत्री दिल्ली में एक आवश्यक बैठक में शामिल है और वो इस कार्यक्रम में हिस्सा नही ले पाएंगे। यंहा बतादें की विगत 18 वर्षों से सीएम योगी गुलरिहा में प्रत्येक वर्ष आयोजित होने वाले नरसिंह शोभा यात्रा में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होते रहे हैं। इस बार पहला ऐसा मौका था कि योगी अदित्यनाथ शोभायात्रा में शामिल नही हो पाए और वर्षों से चली आ रही परम्परा टूट गयी।

आयोजित नरसिंह भगवान शोभायात्रा कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजमंत्री दर्जा प्राप्त (बीज प्रमाणीकरण संस्था के उपाध्यक्ष) राधेश्याम सिह ने कहा कि होली का पर्व आपसी सौहार्द का त्यौहार है। यह त्योहार बुराई की हार अच्छाई के विजय का प्रतीक है। होली आपसी भाईचारे से मनाएं।

गुलरिहा बाजार के क्षेत्रवासी नही खेल पाए योगी के संग होली.

अपने चहेते नेता योगी आदित्यनाथ के संग इस बार होली के शुभावसर पर गुलरिहा की जनता होली नही खेल पाई । बतादें कि नरसिंह शोभायात्रा के दौरान योगी आदित्यनाथ क्षेत्रवासियों के संग अबीर गुलाल से होली खेलते हैं । सदर सांसद रहते हुए शोभायात्रा में तो शामिल होते रहें है। वंही प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद भी शोभायात्रा में शामिल होने की परम्परा बरकरार रखी थी। लेकिन इस बार एक दिल्ली में आवश्यक बैठक होने के कारण शामिल नही हो पाए। आयोजक समिति के सदस्य व गुलरिहा ग्रामप्रधान दशरथ मद्देशिया ने बताया कि इस बार अपने चहेते मुख्यमंत्री के साथ होली ना खेल पाने का मलाल है।

इसी क्रम में कार्यक्रम को पिपराइच विधायक महेंद्र पाल सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी, पूर्व विधायक प्रत्याशी अमरेंद्र निषाद आदि ने भी शोभायात्रा को संबोधित करते हुए अपील किया कि होली का पर्व शान्तिपूर्ण रूप से मनाएं।
इस अवसर पर रविन्द्र शाहू, ग्रामप्रधान दशरथ मद्देशिया, अभिषेक मद्देशिया, विनोद गुप्ता, सन्दीप गुप्ता, सुभाष गुप्ता, मनीष मद्देशिया, बृजेश गुप्ता, संजय पासवान, विजय गुप्ता, मुबारक अली, सूर्यनाथ गुप्ता सहित सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here